Category: सूरह अल बक़र

सूरह अल बक़र हिन्दी में ( 286 हिदायत वाली आयतें)

सूरह अल बक़र कुरान शरीफ की सबसे बड़ी सूरह है। इस सूरह मे अल्लाह ताला ने इंसानियत के लिए तमाम तरह की हिदायात बख़्शी है। वैसे कुरआन शरीफ
Read More

ख़तमल्लाहो अला कुलूबेहिम (Khatamallaho Alaa Quloobehim)- सूरह अल फ़ातिहा आयात 7 की तफ़सीर

“Khatamallaho alaa Quloobehim wa alaa sam-e-him, wa ala absarehim gisawatunv walahum azaabun azeem.” Surah Al Baqrah Verse 7 “खतमल्लाहो अला कुलूबेहिम व अला सम-एहिम, व अला अब्सारेहिम गीसावतुन्व,
Read More

तफ़सीरुल कुरान : सूरह अल बक़्रह आयत 4 और 5 | Tafseerul Quran: Surah Al Baqraha Ayat 4 &

“wallazeena yoominoona bima unzila ilaika wama unzila min qablik, wabil aakhirate hum yooqinoon” Surah al baqraha Verse 4 ” वल्लज़ीना यूमीनूना बिमा उंज़ेला इलैका वमा उंज़ेला मिन क़ब्लिक,
Read More

Yoominoona Bilgayeeb – तफ़सीरे अल बक़्रह आयत 3

अल्लाह ताला फरमाता है Yoominoona Bilgayeeb. जिसके माना होते हैं बिना देखे ईमान लाना। यहाँ पर अल्लाह ताला उन लोगों के वस्फ़ बयान करता है जो बिना किसी
Read More

Hudallil Muttaqeen – सूरह अल बक़्रह आयत 1 और 2 की तफ़सीर

Hudallil Muttaqeen फरमाया है अल्लाह ताला ने सूरह अल बक़्रह की दूसरी ही आयत हैं। hudallil muttaqeen के माना होते हैं, हिदायत है तकवाकारों को। मुत्तकी कौन होता
Read More

Surah Al Baqraha – जानिए क्यों नाज़िल हुई ये 286 आयतों कि सूरत?

Surah Al Baqraha कुरान शरीफ की सबसे बड़ी सूरह है। इस सूरह मे अल्लाह ताला ने इंसानियत के लिए तमाम तरह की हिदायात बख़्शी है। इसे भी पढ़ें
Read More