5 लाजवाब तरीकों से रमज़ान में भूख पर क़ाबू करें। (5 Amazing Tips to Control Hunger In Ramadan)

जैसा कि आप सभी को है, Ramadan Kareem आने वाला है। और Ramadan में खान और पीना दोनों छोड़ना पड़ता है। मतलब, भूखा रहना पड़ता है। तो ऐसी हालत में कैसे रमज़ान में भूख पर क़ाबू करें? जबकि आप को भूख का एहसास किसी भी वक़्त हो सकता है, फिर चाहे, सुबह हो, दोपहर हो, या इफ्तार से पहले शाम हो। भूख कि शिद्दत किसी भी वक़्त हो सकती है।

इसपर भी अगर आपके घर में इफ्तार के लिए लज़ीज़ पकवान तैयार किए जा रहे हों तो ये शिद्दत और भी बढ़ जाती है। इन सबके अलावा, दिन के वक़्त भूख कि ये शिद्दत और एहसास आपकेआर शरीर को धीमा कर देता है और कभी कभी कमजोरी का कारण बन जाता है।

नतीजतन आप अपने आपको थका और Demotivated महसूस करने लगते हो जो आपको आपका रोज़ मर्रा का काम भी पूरा नहीं करने देता।

ऐसी हालती में हमें क्या करना चाहिए? आइए 5 ऐसे तरीके जानते हैं आपकी भूख कि इस शिद्दत और एहसास को कम कर सकता है। तो आइये ये तरीके जानकर रमज़ान में भूख पर क़ाबू करें-

इसे भी पढ़ें – Charity in Ramadan Kareem- रमज़ान में सदकात की अहमियत

1. ज़्यादा पानी पिएँ

बुरा मत मानिएगा, रोज़े के दौरान पानी नहीं पीना है। बल्कि इफ्तार के बाद और सहरी के वक़्त इतना पानी पिएँ जो आपके शरीर के लिए पूरे दिन की पानी कि ज़रूरत को पूरा कर सके।

खाने से ज़्यादा पानी की कमी आपको कमजोर बनाती है इसलिए पानी की खुराक पर ज्यादा ध्यान रखें।

ध्यान रहे पानी पीते वक़्त अपने नबी (स०) की सुन्नतों पर ज़रूर ध्यान रखें। पानी को थोड़ा थोड़ा करके घूंट घूंट में पिएँ न कि एक सांस में। घूंट घूंट पानी पीने का ये फ़ायदा होता है कि वो आपके शरीर में धीरे धीरे जाता है और आपकी सारी ऐजाओं तक पहुँच जाता है। वहीं, एक सांस में पानी पीने पर पानी तेज़ी से शरीर में जाता है जिससे आपकी शरीर के दूसरे हिस्से पानी को absorb नहीं कर पाते।

अपने रोज़े के दिनों में इस तरीके को अपना कर रमज़ान में भूख पर क़ाबू करें।

2. अपने लिए एक Day-Plan बनाएँ और मशरूफ़ रहें

अपने पूरे दिन का plan पहले से बनाएँ और अपने आपको जितना ज्यादा हो सके उतना मशरूफ़ रखें। ये मशरूफ़ियत, इबादत कि शक्ल में हो सकती है, आपके ऑफिस के काम के रूप में, या फिर आपके परिवार के साथ बिताए जाने वाला अहम वक़्त हो सकता है।

अल्लाह कि रज़ा के लिए आप छोटे मोटे कामों में अपनी मर्ज़ी से मशरूफ़ हो सकते हैं जैसे सहरी और इफ्तार कि दावत। ऐसा जररोरी नहीं कि इसके लिए आप पैसे खर्च ही करें।

बहुत सी ऐसी organisations होती हैं जो ये दावतें रखती हैं आप उनका हिस्सा बन सकते है। इस तरह के कामों में हिस्सा लेना न केवल आप को मशरूफ़ रखेगा बल्कि इनमें हिस्सा लेने का सवाब भी मिलेगा। इस तरह आप अपने आपको मशरूफ़ रखकर रमज़ान में भूख पर क़ाबू करें।

ये भी जानें – 5 Blessed ways to Get Ready for the Ramadan? रमज़ान की तैयारी कैसे करें?

3. आस पास के माहोल का ध्यान रखें

हमारे साथ अक्सर ऐसा होता कि जब कोई हमारे सामने कुछ खा रहा हो तो उस हालत में हमें भूख कि शिद्दत कुछ ज्यादा होती है।

आप बाज़ार से गुजर रहे हो और ताज़े ताज़े समोसे तले जा रहे हैं और कुछ लोग खा भी रहें हैं। क्या होगा ऐसे में? खाने का मन करेगा, मगर आप रोज़ा हो इसलिए नहीं खा सकते हो।

क्या आप उस खाने वाले को खाने से मना कर दोगे? या फिर उस समोसे वाले को बनाने से? दोनों पर आपका कोई हक़ नहीं है। इसलिए आप नहीं कर सकते। तो आप आखिर कर क्या सकते हो?

आप उस समोसे वाले कि दुकान के पास ही मत जाओ। आसान! जी बिलकुल, ऐसा तो बिलकुल नहीं हो सकता कि आप बाज़ार न जाएँ। चूंकि रमज़ान है आपके घर पर भी बहुत से सामानो कि ज़रूरत रहेगी इसलिए आपका बाज़ार जाना भी ज़रूरी है।

तो भाई! आखिर करें क्या? बाज़ार जाएँ पर जितना कम हो सके उतना। मतलब जितना ज्यादा हो सके उतना ज्यादा बाज़ार जाना अवॉइड करें। यहाँ बाज़ार इकलौती मुराद नहीं है बल्कि आप हर उस जगह को अवॉइड करें जहां आपको ऐसे कुछ खाते हुए लोग दिखें या खाने कि दूसरी छीजे दिखें। ऐसे इलाकों में न जाकर रमज़ान में भूख पर क़ाबू करें।

4. दही कि खुराक बढ़ाएँ

दही आपके रोज़े के दौरान होने वाली मुश्किलात को कम करने में मदद करता है। दही में प्रोटीन कि मात्रा ज्यादा होती है जो आपके पाचन तंत्र को धीमा कर देता है, और भूख दबा देता है।

दहि का एक और बहुत अहम फ़ायदा ये है कि 85 से 88% पानी होता है। जो आपके शरीर को लंबे समय hydrated रखने में आपकी मदद करेगा। अपने खाने में दही की खुराक बढ़ाएँ और रमज़ान में भूख पर क़ाबू करें।

इसे जरूर पढ़ें – 15 खूबियाँ जो अल्लाह को है पसंद। चौथी ज़रूर पढ़ें।

5. सहरी के वक्त खजूर खाये

खजूर मिनरल, antioxidant, विटामिन और फाइबर से भरपूर होता है। अपनी खुराक में खजूर शामिल करना मतलब अपने शरीर को energy का एक ब्लास्ट देना है जो आपके रोज़े के दिनों में बहुत काम आएगी।

इन फायदेमंद तरीकों को अपना कर रमज़ान में भूख पर क़ाबू करें और अपने आपको को अपने लिए आसान बनाए। अल्लाह इस रमज़ान आपको सब्र से और आपका ये रमज़ान पिछले रमज़ान के मुक़ाबले ज्यादा फायदेमंद हो। आमीन    

इस पोस्ट को अँग्रेजी में पढ़ने के लिए यहाँ click karein  

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *