अस्सलाम व अलैकुम व रहमत उल्लाह। मेरे प्यारे दोस्तो मैं आपका फिर से इसतेकबाल करता हूँ। आज हम कुरान शरीफ की सबसे आखिरी सूरह, सूरह नास के बारे